Tel: +91-9425169714 | Mail: nspnews.in@gmail.com


विप्र समागम में दिखाई एकजुटता, निकली शोभायात्रा

narsinghpur [15-04-2018]

सदर मढ़िया परिसर में हुआ मुख्य आयोजन
नरसिंहपुर। रविवार 15 अप्रेल को जगतगुरू स्वामी शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती जी महाराज के सानिध्य में हुए विप्र समागम में बड़ी संख्या में ब्राम्हण समाज के लोगों ने उपस्थिति दी। कार्यक्रम में जिलेे के अलावा अन्य जिलों के ब्राम्हणों ने सहभागिता दी। स्थानीय सदर मढ़िया परिसर में हुए कार्यक्रम में वक्ताओं ने आयोजन की सराहना करते हुए एकता पर बल दिया।  
इसके पूर्व नगर के मुख्य मार्ग से विशाल शोभायात्रा निकाली गई जिसमें विभिन्न झांकियां आकर्षण का केन्द्र रही। शोभायात्रा का जगह-जगह  स्वागत हुआ। जिसमें बड़ी संख्या में मातृशक्ति ने उपस्थिति दर्ज करायी। शोभायात्रा का सदर मढ़िया परिसर में समापन हुआ। जहां आयोजित मुख्य समारोह में अनेक वक्ताओं ने जगतगुरू शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती जी महाराज के सानिध्य में विचार रखे। वक्ताओं ने मूलरूप से सामाजिक कुरीतियों मिटाकर शिक्षा पर विशेष जोर देते हुए एकता और परस्पर सद्भावना से समाज में कार्य करने पर बल दिया एवं सामाजिक एकता की बात की। इसके अलावा कुछ वक्ताओं ने कहा कि समाज सभी दिशा में जायें इसकी जिम्मेदारी और हमारा दायित्व ज्यादा है। साथ ही वर्ण व्यवस्था का विस्तार से उल्लेख किया गया। 
इस अवसर पर संत अमृतानंद जी महाराज ने वर्ण व्यवस्था पर विस्तार से बात रखते हुए विप्र होने की परिभाषा को बताते हुए ब्राम्हण को हमेशा अपने आचरण पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता बतलायी। कार्यक्रम को पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, प्रदेश शासन के मंत्री गोपाल भार्गव, विधायक संजय शर्मा, वरिष्ठ पत्रकार विजयदत्त श्रीधर, पूर्व विधायक विनय शंकर दुबे, साधना स्थापक, दीनदयाल ढिमोले, नरेश पाठक, जिला कांग्रेेस अध्यक्ष मैथिलीशरण तिवारी, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक अध्यक्ष वीरेन्द्र  फौजदार, सुरेन्द्र ढिमोले, पूर्व नपा अध्यक्ष महंत प्रीतमपुरी, डॉ. संजीव चांदोरकर, नीरज महाराज, नारायण दुबे, नरेन्द्र अवस्थी के अलावा अखिलेशानंदजी महाराज, सुबुद्धानंदजी महाराज एवं बड़ी संख्या में ब्राम्हण समाज के लोग मौजूद थे।   

 



SO-Tracker
MP INFO