कलेक्टर को करेली क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराया

narsinghpur 10-02-2019 Regional

पत्रकारों ने विभिन्न समस्याओं व मांगों की दी जानकारी 
करेली। खबरों पर प्रशासन संज्ञान ले रहा है और इसी तरह लेता रहेगा लोकतंत्र में मीडिया मजबूत स्तंभ है समाज में अच्छाई व बुराई दोनों है सिस्टम में जो खामियां उसमे सुधार आवश्यक है इसमें खबरों का महत्वपूर्ण योगदान रहता है उक्ताशय के विचार जिला कलेक्टर दीपक सक्सेना ने प्रेस परिषद करेली द्वारा स्थानीय सीताराम माल में आयोजित प्रेस परिषद से मिलिये कार्यक्रम में व्यक्त किये। कार्यक्रम में पत्रकारों ने एक्सप्रेस हाइवे पर इमलिया मीडियम क्रॉसिंग के व्यवस्थित विकास व पीरा रोड़ अंडरपास पर नागरिकों को चढ़ने उतरने के लिये कट-पाइंट विकसित करने, करेली बस्ती से पावर हाउस तक बरमान चौराहा से सफेद पुल तक बनने वाले सीमेंट रोड की तकनीकी खामियों को दूर कर उसे रोड़-लेबिल से बनाने जिससे बारिश का पानी घर, दुकान में ना घुसने, करेली शहर में अतिक्रमण, राम मंदिर के रख रखाव, शहर के घरों में बिना सेप्टिक टैंक के नाली में पाईप द्वारा सीधा मल का प्रवाहित करने, बस स्टैंड की बदहाली व बसों के शहर के भीतर से गुजरने से यात्रियो को होने वाली परेशानी, नर्मदा जल आवर्धन योजना पर प्रशासन का नियंत्रण नहीं है जिससे नगर की सड़कें आज भी बेतरतीब खुदी है, शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय में आर्ट व अन्य विषय शिक्षकों की कमी, चौड़ीकरण के साथ इमलिया रोड बनवाने, शहर में आईटीआई व सिविल कोर्ट खोलने, एटीएम के लगातार फ्राड बढ़ने, स्टेडियम व्यवस्थित रखने युवक व कल्याण विभाग से नगर पालिका को वापिस सौपने, अवैध रेत उत्खनन, परिवहन व भंड़ारण, रेलवे फाटक पर यातायात व्यवस्थित करने, करेली गाडरवाड़ा रोड पर सुगर मिल की ट्रालियों के कारण हमेशा लगने वाले जाम से निजात दिलाने, गुड़ भटियों की चिमनियों से निकलने वाले जहरीले धुंये से निजात दिलाने आदि संबंधी प्रश्न अध्यक्ष प्रवीण कौरव, संतोष तिहैया, विवेक खासकलम, जितेन्द्र गुप्ता, अभिषेक श्रीवास्तव, आशीष जैन, अनुज ममार, दिनेश सिंघई, तीरथ श्रीवास्तव, भागीरथ तिवारी, रमाकांत कौरव, संजीव पटेल, अमित वर्मा, देवेन्द्र मंड़लोई, उदय ठाकुर, मनोज लूनावत, चंदन विश्वकर्मा, रत्नेश सिंघई आदि ने रखे सभी समस्याओं को कलेक्टर दीपक सक्सेना ने गंभीरता से सुना व उनके निराकरण की दिशा में सक्रियता से कार्य करने के लिये आश्वस्त किया अंत में प्रेस परिषद द्वारा जिला कलेक्टर को स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया।

प्रादेशिक